रविवार, 16 जनवरी 2011

अंतर्राष्ट्रीय हिंदी दिवस वाला सप्ताह


इस पूरे सप्ताह आबूधाबी और दुबई में अंतर्राष्ट्रीय हिंदी दिवस के कार्यक्रमों में चौपाल के सदस्य व्यस्त रहे। १४ जनवरी की शाम आबूधाबी के भारतीय दूतावास में थियेटरवाला द्वारा तैयार किये गए, दो नाटकों- 'दस्तक' और 'खिलजी का दाँत' का प्रदर्शन हुआ। असलम परवेज द्वारा लिखित नाटक 'दस्तक' का निर्देशन प्रकाश सोनी ने किया था और के.पी.सक्सेना द्वारा लिखित 'खिलजी का दाँत' का सबीहा मँझगाँवकर ने। दस्तक को थियेटरवाला द्वारा पहले भी मंचित किया जा चुका है, लेकिन खिलजी का दाँत की यह प्रथम प्रस्तुति थी। दोनो नाटकों की प्रस्तुत आकर्षक रही। सुनील जसूजा और ऊष्मा शाह द्वारा तैयार किया गया सेट रोचक और सुंदर बन पड़ा था। एक शाम थियेटर के नाम शीर्षक से प्रस्तुत इस कार्यक्रम में दूतावास का थियेटर पूरा भरा रहा और दोनो नाटकों के विषय में दर्शकों की प्रतिक्रिया सकारात्मक रही। मध्यांतर में परोसे गए चाय और समोसों ने वातावरण में भारतीयता की महक भर दी। अधिक फोटो अभी उपलब्ध नहीं हुए हैं, इसलिये झलक के रूप में खिलजी का दाँत नाटक की एक फोटो ही प्रस्तुत है। इस कार्यक्रम के कारण सुबह लगने वाली चौपाल स्थगित रही।

इसके पहले ७ जनवरी की शाम दुबई के कोरल देयरा होटल में महाराष्ट्र मंडल द्वारा मराठी के लोकप्रिय कवि और अभिनेता गुरू ठाकुर की हिंदी कविताओं की सीडी का लोकार्पण हुआ। सीडी में गुरू ठाकुर की आवाज भावों को अभिव्यक्त करने में सफल रही है। बीच बीच में योगिता चितले के आलाप अत्यंत कर्णप्रिय हैं। इस अवसर पर अलका तट्टू द्वारा गुरू ठाकुर का एक लंबा साक्षात्कार भी लिया गया जिसका दर्शकों ने भरपूर आनंद उठाया। साक्षात्कार के बीच बीच में गुरू ठाकुर के प्रसिद्ध गानों के वीडियो देखना रोचक रहा। कार्यक्रम में गायिका योगिता चितले भी उपस्थित रहीं। दाहिनी ओर के चित्र में कार्यक्रम के बाद का एक समूह चित्र।

ये दोनो कार्यक्रम अंतर्राष्ट्रीय हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किये गए।

2 टिप्‍पणियां:

  1. हिंदी दिवस के इन कार्यक्रमों के चित्र और जानकारी पढ़ कर बहुत ही अच्छा लगा ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. Hindi divas ki jankari uplabdh karvane ke liye sukriya.manjul bhatnagar

    उत्तर देंहटाएं